अन्य

बलूचिस्तान का हिंगलाज माता मंदिर

पौराणिक मान्यता:- भगवान शिव यज्ञ स्थल में आये तथा अपनी प्रिय पत्नी सती के शव को कंधे पर उठा, तांडव नृत्य करने लगे। (शिव का नटराज स्वरूप, तांडव नित्य का ही प्रतिक हैं।) शिव के क्रुद्ध हो तांडव नृत्य करने के परिणामस्वरूप, तीनो लोको में हाहाकार मच गया तथा तीनो लोगो का विध्वंस होने लगा। […]

तुलसी का पौराणिक व औषधि जनित महत्व

धार्मिक महत्व:- तुलसी के ऊपर एक पृथक पुराण लिखा जा सकता है, संक्षेप में तुलसी का धार्मिक सांस्कृतिक व औषधि जनित महत्व बताने की कोशिश कर रहा हूँ । विष्णु पुराण, ब्रह्म-पुराण, स्कन्द-पुराण, देवी भागवत पुराण के अनुसार तुलसी की उत्पति की अनेक कथाएँ हैं, पर एक कथा के अनुसार- समुन्द्र-मंथन करते समय जब अमृत […]

जवाहर बाग सशस्त्र संघर्ष

पृष्ठभूमि:- वर्ष 2014 से मथुरा के सार्वजनिक पार्क जवाहर बाग पर “स्वाधीन भारत विधिक सत्याग्रह” नामक समूह के सशस्त्र सदस्यों ने कब्जा कर रखा था, जो स्वयं को नेताजी सुभाष चन्द्र बोस का अनुयायी बताते थे व “स्वाधीन भारत विधिक सत्याग्रही”, “आज़ाद भारत विधिक विचारक क्रांति सत्याग्रही”, “स्वाधीन भारत सुभास सेना” आदि संगठनों से सम्बद्ध […]

ध्वस्त होती भारतीय न्याय व्यवस्था

adidas yeezy boost 750 acheter yeezy boost 350 prixadidas yeezy boost 350 noiryeezy boost 350 soldesyeezy boost 350 france pas cheryeezy boost 350 soldesyeezy boost 350 noiryeezy boost 750 venteacheter adidas yeezy boost 750acheter yeezy boost 750 triple black venteyeezy boost 750 soldesyeezy boost 750 france vendreacheter yeezy boost 750 triple black venteyeezy boost 750 […]

बैंकों का हाल: मालदारों पर रहम, किसानों पर सितम

एक तरफ तो सरकारी बैंक विजय माल्या जैसी बड़ी मछलियों को लेकर नरम हैं, दूसरी तरफ किसानों की कमर तोड़ रहे हैं। छोटे किसान लगातार परेशान हैं, लेकिन सरकार और बैंकों की उनमें कोई दिलचस्पी नहीं है। समस्या यह है कि राजनीतिक दलों के लिए भी यह कोई मुद्दा नहीं है। ऐसे में हर समस्या […]

विचार महाकुंभ से क्या हासिल?

लेखक माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय, भोपाल में जनसंचार विभाग के अध्यक्ष हैं

अग्निकांड की घटनाएं और बचाव

गर्मी बढ़ने के साथ ही शहर और ग्रामीण इलाकों में अग्निकांड की घटनाएं भी बढ़ने लगी हैं। जरा सी चूक से आग भड़क सकती है। अगर, कुछ सावधानी बरती जाए तो अग्निकांड की घटनाओं को काफी हद तक रोका जा सकता है। 14 अप्रैल को अग्नि शमन सेवा स्मृति दिवस के रूप में मनाया जाता […]

बुद्धकालीन रामग्राम का कोलिय गणराज्य

गौतम बुद्ध के अवतरण के पहले का यह प्रसंग है। कोशल के सूर्यवंशी राजा प्रसेनजित या ओक्कका की बड़ी रानी की बड़ी पुत्री एवं शाक्यों की राजमाता पिया बहुत रुपवती थी। उसको बाद में कुष्ट रोग हो गया। उसके भाइयों ने कहा कि यदि राजमाता उन लोगों के साथ रहेगी तो उन लोगों को भी […]

आदर्श समाज ही अम्बेडकर व संघ का स्वप्न

संविधान सभा के सदस्य डा. अम्बेडकर अपने संघर्षपूर्ण जीवन में कोढ़ से लड़ते रहे। अस्पृश्यता के हरिजनोद्वार को भोगा तभी डटकर मुकाबला कर सका। गांधी के हरिजनोद्वार की मुहिम को कानूनी तौर पर संरक्षित करने के लिये उन्होंने ‘आरक्षण’ बिल बनाने में बड़ी भूमिका निभाई। शरीर के किसी अंग के कमजोर होने से सक्रियता में […]

जेएनयू में देशविरोधियों को लाल सलाम

Asst. Professor, The M S University of Baroda